Skip to content

Over 1 lakh workers express class solidarity with Maruti Workers

March 17, 2017

Over 1lakh+ workers express class solidarity with Maruti Workers
मारुति मज़दूरों के समर्थन में एक लाख से ज्यादा मज़दूरों का वर्गीय एकता और ताकत का प्रदर्शन!

On 17 March, the Gurgaon Sessions Court declares the sentences for the 31 workers convicted on 10 March by the Court with an anti-worker pro-corporate order. Expressing working class solidarity against satisfying the collective conscience of the capitalist class, on 16th March, more than 1 lakh workers boycotted lunch and dinner in nearly 50 plants in Gurgaon-Manesar-Dharuhera-Bawal-Neemrana industrial belt and beyond.

On 16th the same day, Protest Demonstrations also took place in solidarity with Maruti Suzuki workers by various mass democratic, students, human rights, and workers organisations, and Trade Unions in front of Haryana Bhawan/Jantar Mantar in New Delhi, in Rudrapur and Kashipur in Uttarakhand, in Ludhiana in Punjab, in Chennai and Coimbatore in Tamilnadu, in Kaithal in Haryana, in Bengaluru in Karnataka, in Bhilai in Chattishgarh.

The partial list of the factories plants taking part in solidarity action on 16th March in support of Maruti workers are:
1. Maruti Suzuki Workers Union, Manesar
2. Maruti Udyog Kamgar Union, Gurgaon
3. Maruti Suzuki Powertrain India Employees Union, Manesar
4. Suzuki Motorcycles India Employees Union, Khedki Daula
5. Honda Motorcycle and Scooters Employees Union, Manesar
6. Hero MotoCorp Employees Union, Gurgaon
7. Hero MotoCorp Employees Union, Dharuhera
8. Daikin air-conditioning Employees Union, Neemrana
9. Bellsonica Auto Components Employees Union, Manesar
10. Kansai Nerolac Paints Karmchari Union, Bawal
11. Rico Auto Workers Union, Dharuhera
12. Omax Auto Employees Union, Dharuhera
13. Bajaj Motors Employees Union, Narsinghpur
14. Sunbeam Workers Union, Gurgaon
15. Munjal Kiriu Employees Union, Manesar
16. Sona Koyo Steering Workers Union, Manesar
17. Microtech Union, Bawal
18. Ahresty Union, Bawal,
19.Pricol Union, Manesar
20. Hema Union, Gurgaon
21. Napino Union, Manesar
22. Satyam Auto Union, Manesar
23. GKN Union, Dharuhera
24. Metro Ortem Union, Gurgaon
25. FCC Union, Manesar
26. Munjal Showa Union, Gurgaon
27. Munjal Showa Union, Manesar
28. Talbros Union, Manesar
29. Perfetti Union, Manesar
30. Frigoglass Union, Manesar
31. Organica Medical, Manesar
32. ENKY Union, Manesar
33. Uniproduct Union, Bawal
34. Autofit Union, Dharuhera
35. Endurance Union, Manesar
36. Asti Union, Manesar
37. MK Auto Union, Gurgaon
38. Harsoriya Union, Bawal
39. Amul Union, Manesar
40. Moser Bear Union, Noida
41. LG Union, Noida
42. Shanthi Gear Union, Coimbatore
43. Onload Gear, Coimbatore
and others.

Free the falsely implicated Maruti Workers!
Down with the company-state nexus of exploitation-repression.
Down with State repression on workers movement.

आज गुड़गांव -मानेसर -धारूहेड़ा -बावल नीमराणा इंडस्ट्रियल बेल्ट, चेन्नई, ग्रेटर नोएडा के विभिन्न प्लांटों के मजदूरों ने गुड़गांव कोर्ट के राजनीतिक फैसले के ख़िलाफ़ मारुति के साथियों के समर्थन में व्यापक एकजुटता दिखाते हुए, खाने का बहिष्कार किया।

खाना बहिष्कार को सफल बनाते हुए पूरे बेल्ट के करीब 40 से ज्यादा कंपनियों के 1 लाख से ज्यादा मज़दूरों ने अपना विरोध व्यक्त किया। छोटी बड़ी सभी कंपनियों में स्थायी, ठेका, कैजुअल, अप्रैंटिस, सफाई कर्मचारियों ने आज खाने का बहिष्कार किया। मारुति सुजुकी कार प्लांट मानेसर ,मारुति सुजुकी कार प्लांट गुड़गांव ,मारुति सुजुकी पॉवर ट्रैन प्लांट मानेसर , सुजुकी बाईक प्लांट मानेसर, बेलसोनिका मानेसर, FMI मानेसर, होण्डा बाईक प्लांट मानेसर, हीरो बाईक प्लांट (गुड़गांव, धारूहेड़ा), सनबीम गुड़गांव, मेट्रो गुड़गांव, हेमा इंजीनियरिंग गुड़गांव, अस्ती इलेक्ट्रॉनिक्स गुड़गांव, बजाज गुड़गांव, एम के ऑटो गुड़गांव, ENKY गुड़गांव, मुंजाल सवा (गुड़गांव,मानेसर), भूपेन दास गुड़गांव, सत्यम ऑटो मानेसर, FCC मानेसर, फ्रीगो ग्लास मानेसर, प्रिकॉल मानेसर, डिगनिया मेडीसीन मानेसर, इंडोरेन्स मानेसर, परफेट्टी मानेसर, टालब्रॉस मानेसर, मुंजाल किरु मानेसर, नैपिनो ऑटो मानेसर, अमूल मिल्क प्लांट मानेसर, GKN धारूहेड़ा,रीको धारूहेड़ा, ऑटोफिट धारूहेड़ा, ओमेक्स धारूहेड़ा, माइक्रोटेक बावल, हरसूर्या बावल, नैरोलेक बावल, अरेस्टी बावल, डाईकिन एयर कंडीशनिंग नीमराणा, मोसर बियर ग्रैटर नोएडा, शान्ति गियर चेन्नई, ऑन लोड गियर चेन्नई इसके और भी प्लांटों के मज़दूरों के खाने का बहिष्कार किया।

इसके अलावा देश के विभिन्न शहरों दिल्ली, लुधियाना, भिलाई, बैंगलोर, चेन्नई, रुद्रपुर, कैथल में ट्रेड यूनियनों और जन संगठनों ने मारुति मज़दूरों के समर्थन में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।

ये एक मिसाल है जिस प्रकार पूंजीपति उनकी दलाल सरकारें, न्याय व्यवस्था का गठजोड़ षड्यंत्र कर रहा हैं उसके ख़िलाफ़ मज़दूर भी, खासकर गुड़गांव से बावल औद्योगिक क्षेत्र की मज़दूर शक्ति संगठित हो रहे हैं। आज जरूरत है इस फौलादी एकता, इस सामूहिक पहल को अगले स्तर पर ले जाने की ताकि ना सिर्फ मारुति मज़दूरों के संघर्ष को न्याय के मुकाम तक पहुंचाया जा सके, बल्कि पूरे बेल्ट के मज़दूरों का आंदोलन आगे बढ़े। मालिक और पूंजीपति मज़दूरों को साफ़ समझ लेना चाहिए कि उनके हर षडयंत्र का, दमन का मुहंतोड़ जवाब दिया जाएगा।

मारुति के मजदूरों को बिना शर्त रिहा करो!
पूंजीवादी दमन मुर्दाबाद! सरकारी दमन मुर्दाबाद!

delhi.jpg

Advertisements
No comments yet

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: