Skip to content

कैथल में धारा 144 के लागु किये जाने का विरोध करें! प्रशासन के अजनतांत्रिक रवैय्ये को चुनौती दें!

October 26, 2013

साथियों, 

मारुती मजदूरों और हमारे परिजनों द्वारा 27 अक्टूबर को आयोजित किए जा रहे विशाल प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन ने पूरे कैथल जिले में धारा 144 लगा दी है| प्रशासन के इन हथकंडों से जनता भलीभांति वाकिफ है| विगत 18 मई की रात को इसी अजनतांत्रिक कानून का इस्तेमाल कर प्रशासन ने हमारे 100 साथियों को गिरफ्तार कर लिया था, ताकि मज़दूर 19 मई के लिए घोषित कार्यक्रम करने से पीछे हट जाएँ| किन्तु सरकार के इस शर्मनाक कदम का जवाब हमने तब भी अपने संघर्ष को और भी तेज़ करते हुए दिया था और आज भी हम विश्वस्त हैं कि सरकार की ऐसी हरकतें हमारे संघर्ष की गति मंद नहीं कर सकेगी|

प्रशासन के यह हथकंडे मात्र यह दर्शाते हैं कि इन शासकों के मन में आम जनता की न्याय की मांग के प्रति और हमारी अटल एकता के प्रति कितना भय है| बड़ी-बड़ी कंपनियों की सेवा में लुप्त उनकी लाठियां और गोलियां और उनके कानून जनता को और मूक नहीं रख सकेंगे| खेतों में आज फ़सल तैयार खड़ी है, क्या यह धारा 144 खेतों में भी लागु है? कंपनियों में हम हजारों मज़दूर साथ काम करते हैं, तभी यह मालिक इतना मुनाफ़ा कमा पाते हैं, क्या इस प्रशासन की हिम्मत है की यह वहां भी धारा 144 लगा सकें? 

कानून जनता के नाम पर बनाई जाती है पर आज सरकार द्वारा इस्तेमाल किये जा रहे कानून जनता और जीवन विरोधी हैं| इन कानूनों का इस्तमाल सरकार ने हर कदम पर हम आम मज़दूरों को उत्पीडित करने के लिए किया है| धारा 144 के माध्यम से सरकार द्वारा हमारे विरोध प्रकट करने के संवैधानिक अधिकार को छीनने की कोशिश के खिलाफ हम मारुती के कर्मचारी कल सुबह जिला उपायुक्त, कैथल के कार्यालय के सामने अपना प्रतिरोध दर्ज करेंगे और अपनी गिरफ्तारी देंगे| हम सभी से आग्रह करते हैं कि सरकार द्वारा कानून के नाम पर चलाए जा रहे गर्कनूनी और अजनतांत्रिक तंत्र को कड़ी चुनौती देने में हमारे साथ खड़े हों| वर्तमान स्थिति को नज़र में रखते हुए हमने कल के विशाल विरोध प्रदर्शन के कार्यक्रम को पुनर्निर्धारित करने का फैसला लिया है, जिसकी तारिख हम जल्द ही आपको सूचित करेंगे| हम उम्मीद करते हैं की हर बार की तरह इस बार भी हमारे संघर्ष को आपके समर्थन से उत्साहजनक समर्थन और सहयोग मिलेगा| 

मेहनतकशों का भाईचारा जिंदाबाद!
इंकलाब जिंदाबाद!

No comments yet

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: