Skip to content

अपने अनशन के स्थल से जबरन हटाये जाने के बाद भी हमारा संघर्ष जारी है!! Hunger strike continues on the adjoining plot after being forcefully evicted from the demonstration site!

March 30, 2013

साथियों, 

जैसा की हमें पहले से अंदेशा लग गया था, प्रशासन ने विभिन्न हथकंडों का इस्तेमाल कर आज हमें अपने अनशन के स्थल से हटाने की पुरज़ोर कोशिश की| भरी संख्या में पुलिस तैनात करने से जब हम पीछे नहीं हेट तो प्रशासन ने ज़मीन के मालिक द्वारा कहलवाया की हमारे शांतिपूर्ण आन्दोलन से उसकी संपत्ति की सुरक्षा खतरे में पड़ रही है और इस बाहने पुलिस के हस्तक्षेप का बहाना तैयार किया| परन्तु हम अब तक वहाँ डटे हुए हैं और बगल के प्लाट पर अपने आमरण अनशन को जरी रखे हैं| पुलिस प्रशासन के यह हथकंडे अमीर व संपत्तिशालियों और इस मजदूर-विरोधी सरकार के गठजोड़ को हमारे सामने और भी साफ़ कर रहे हैं और हमें अपना संघर्ष और भी तेज़ करने की प्रेरणा देते हैं| 

Friends,

As we had already anticipated, the administration has been using various means to make us move from the site of our hunger strike. Seeing that the heavy deployment of police forces was not enough to deter us they finally managed to get the owner of the plot of land we were sitting on to declare that our peaceful movement was threatening the security of his property and giving an excuse to the police to intervene. Yet we remain resolute in our struggle and have continued our fast and demonstration on the adjoining plot of land. These maneuvers of the police and administration expose their hand and glove relationship with the rich and propertied and further strengthen our resolve to take our struggle forward.

Image

No comments yet

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: